अखिलेश के भरोसे मुख़्तार के बेटे ने खुलेआम दी अधिकारियों को धमकी कहा,’6 महीने तक ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं, पहले सबका हिसाब किताब’,

मऊ सदर विधानसभा सीट से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रत्याशी और बाहुबली विधायक मुख्तारअंसारी के बड़े बेटे अब्बास अंसारी ने एक जनसभा के दौरान मंच से अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए उत्तेजित भाषण दिया है जिसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. नगर क्षेत्र में आयोजित जनसभा के दौरान भी उनके द्वारा उसी तरह का भाषण दिया गया है. उस भाषण की वजह से उनके ऊपर FIR भी दर्ज हो चुकी है और चुनाव आयोग ने भी मामले का संज्ञान ले लिया है.

अपने भाषण में अब्बास अंसारी ने कहा है कि मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी से कह कर आया हूं कि 06 महीने तक किसी की ट्रांसफर पोस्टिंग नहीं होगी. जो जहां है, वहीं रहने वाला है. पहले हिसाब -किताब होगा. उसके बाद उनके जाने पर मुहर लगाया जाएगा. आगे कहा कि हम बाहुबली हैं. हमें इससे कोई गुरेज नहीं है. मेरे नौजवान साथियों की तरफ कुछ बैल सींग निकाल कर खड़े हैं . समय आने दीजिए खूंटे में यही नहीं बांध दिया तो कहिएगा. अखिलेश यादव से मैंने कहा था कि पहले जिन लोगों ने मुकदमे लगाए हैं उनकी भी जांच पड़ताल कर लिया जाए.

आगे उन्होंने ये भी कह दिया कि पिछली सरकार में सरकार को खुश करने के लिए खास तौर पर कुछ अधिकारियों ने अपनी कुर्सी और अपने पद का गलत इस्तेमाल किया है और जनता को प्रताड़ित किया है और उस जनता की आवाज है कि इसकी जांच हो और जो इसमें गलत पाए जाएंगे उनके ऊपर कार्रवाई होनी चाहिए. तभी आगे के लिए मैसेज होगा कि कोई अपनी पद की गरिमा को तार-तार ना करते हुए जनता के साथ कोई नाइंसाफी ना करें.

हालांकि जब इस वायरल वीडियो में दिए गए बयान को लेकर अब्बास अंसारी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैंने अखिलेश यादव से यह बातें कही हैं. यह होगा कि नहीं होगा यह तो बाद कि बात है. यह बातें अब्बास अंसारी द्वारा मऊ नगर क्षेत्र के पहाड़पुरा में आयोजित एक जनसभा में अपने भाषण के दौरान और साथ ही एक वायरल हो रहे वीडियो में भाषण के दौरान कही गयी हैं.

 

Advertisements