रूस ने की यूक्रेन पर हमले की घोषणा, भारत के सम्बन्ध में भी कहा दी बड़ी बात

रूस ने की यूक्रेन पर हमले की घोषणा, भारत के सम्बन्ध में भी कहा दी बड़ी बात

नई दिल्ली,रूस और यूक्रेन के बीच जंग छिड़ गई है. दोनों देशों के बीच तनाव अपने चरम पर है. यूक्रेन में हालात बिगड़ते जा रहे हैं.रूस-यूक्रेन में जंग अपने चरम पर पहुंच गया है. सेंटर फॉर डिफेंस स्ट्रेटजिस्ट के मुताबिक, रूस के 100 से ज्यादा सैनिक मारे गए हैं. इसके अलावा रूस के 7 विमान और 3 हेलिकॉप्टर भी तबाह हुए हैं. वहीं, रूस ने हेनिचेस्क और नोवा कहोव्का पर कब्जा कर लिया है.

यूक्रेन में भारत के राजदूत ने कहा कि कीव में भारत का दूतावास सभी भारतीयों की सुरक्षा के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहा है. अगर कोई कीव में फंसा है तो वे अपने दोस्तों, परिवारों, भारतीय समुदाय के सदस्यों और भारतीय दूतावास से संपर्क करें. उन्होंने आगे कहा कि चूंकि हवाई क्षेत्र को अवरुद्ध कर दिया गया है, सड़कें अवरुद्ध हैं और रेल सेवाएं बाधित हैं, मैं सभी भारतीय नागरिकों को सलाह देता हूं कि वे अपने निवास के सामान्य क्षेत्र में जहां कहीं भी रहें, और जो लोग पारगमन में हैं उन्हें वापस सामान्य क्षेत्रों में जाना चाहिए.

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने यूक्रेन पर हमले को यूरोप के इतिहास का टर्निंग प्वाइंट बताया है. मैक्रों का कहना है कि यूक्रेन पर रूस के हमले के ‘हमारे जीवन के लिए गहरे, स्थायी परिणाम’ होंगे. उन्होंने यूक्रेन पर हमले के लिए रूस को एक अडिग प्रतिक्रिया की चेतावनी दी, जिसे उन्होंने यूरोपीय इतिहास में एक महत्वपूर्ण मोड़ के रूप में वर्णित किया है.

दरअसल, यूक्रेन मसले पर आक्रामक हो चुका रूस इन दिनों कई बड़े आर्थिक व व्यवसायिक प्रतिबंधों का सामना कर रहा है। पश्चिमी देश उस पर एक के बाद एक प्रतिबंध लगा रहे हैं। इस बीच रूस ने भारत से साथ देने की अपील की है। दिल्ली स्थिति रूसी दूतावास ने बुधवार काे जारी एक वर्चुअल प्रेस ब्रीफ में कहा कि, ‘हमें उम्मीद है कि हमारी साझेदारी उसी स्तर पर आगे भी जारी रहेगी, जैसी की वर्तमान में है। विशेष रूप से दिसंबर 2021 में हाल के रूसी-भारतीय द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के परिणामों पर एक नज़र डाली जाए। हमनें रक्षा क्षेत्र में 10 साल के सहयोग कार्यक्रम पर हस्ताक्षर किए हैं। हमारे पास एक बड़ी पाइपलाइन योजना है। हमें पूरा विश्वास है कि सभी योजनाएं सफलतापूर्वक लागू होंगी।’

Advertisements