धर्म के कारण अधूरी रह गई दिग्गज़ एक्टर ओमप्रकाश की प्रेम कहानी, फिर विधवा की लड़की से करनी पड़ी शादी

धर्म के कारण अधूरी रह गई दिग्गज़ एक्टर ओमप्रकाश की प्रेम कहानी, फिर विधवा की लड़की से करनी पड़ी शादी

हिंदी सिनेमा में गुजरे दौर में कई बेहतरीन अभिनेता हुए हैं. फिल्मों में लीड एक्टर्स के अलावा सहायक और साइड रोल निभाने वाले कलाकारों को भी ख़ूब लोकप्रियता हासिल हुई है. हिंदी सिनेमा में कई सालों तक साइड और सहायक भूमिकाएं निभाकर ही दिवंगत अभिनेता ओमप्रकाश लोकप्रिय हुए थे.

ओमप्रकाश का जन्म 19 दिसंबर 1919 को जम्मू में हुआ था. शुरू से ही फ़िल्मी दुनिया की ओर उनका रुझान था. महज 12 साल की उम्र में उन्होंने संगीत की शिक्षा लेनी शुरू कर दी थी. करीब पांच दशक तक ओमप्रकाश ने बड़े पर्दे पर अपनी अदाकारी का जादू बिखेरा. वे अपनी कमाल की कॉमिक टाइमिंग के लिए पहचाने गए.

दिग्गज़ अभिनेता ओमप्रकाश की आज (21 फरवरी) को पुण्यतिथि है. उनका निधन साल 1998 में 21 फरवरी को मुंबई में हुआ था. आज उनकी 24वीं पुण्यतिथि है. बड़े पर्दे पर उन्होंने बड़े-बड़े दिग्गज़ कलाकारों के साथ काम किया.

ओमप्रकाश हावड़ा ब्रिज, दस लाख, आजाद, मिस मैरी, प्यार किये जा, पड़ोसन, बुड्ढा मिल गया चुपके चुपके, नमक हलाल, गोल माल, चमेली की शादी, शराबी, खानदान, और लावारिस सहित ढेरों हिट फिल्मों में देखने को मिले हैं.

ओमप्रकाश के फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1944 में फिल्म ‘दास’ से हुई थी. इस फिल्म में रागिनी और प्राण ने काम किया था. ओमप्रकाश को अपनी पहली फिल्म के लिए महज 80 रूपये की फीस मिली थी.