वोट डालने नहीं आईं मुलायम की बहू अपर्णा, पत्नी साधना और बेटे प्रतीक ने भी क्यों नहीं किया मतदान

लखनऊ,इटावा में चुनाव कोई भी हो लेकिन नजरें सभी की मुलायम परिवार पर रहती हैं। यूपी विधानसभा चुनाव में तीसरे चरण के मतदान के दिन रविवार को सैफई स्थित कोठी में मुलायम परिवार के सभी सदस्य जुटे और मतदान करने भी गए। सैफई के अभिनव विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर मुलायम परिवार के सदस्यों ने मतदान किया लेकिन उनकी बहू अपर्णा यादव, पत्नी साधना और बेटा प्रतीक वोट डालने नहीं आए। इसे लेकर सैफई में राजनीति में सक्रिय रहने वाले लोगों में भी खासा चर्चा रही। अपर्णा ने हाल ही में भाजपा ज्वाइन की थी और भाजपा के लिए चुनाव प्रचार भी कर रही हैं।

समाजवादी पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव के परिवार के सदस्यों का नाम सैफई की मतदाता सूची में दर्ज है। यही वजह है कि चार दिन पहले लखनऊ से सैफई आए मुलायम सिंह मैनपुरी करहल में बेटे अखिलेश के लिए जनसभा को संबोधित करने के बाद मतदान के लिए ठहर गए थे। रविवार को सैफई के अभिनव विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, उनक पत्नी डिंपल यादव, शिवपाल सिंह यादव, प्रो. रामगोपाल यादव समेत परिवार के सभी सदस्य वोट डालने पहुंचे। यहां की वोटर लिस्ट में मुलायम की पत्नी साधना, बेटे प्रतीक और बहू अपर्णा का नाम भी दर्ज है।

परिवार से बागवत करके अपर्णा ने बीते दिनों भाजपा ज्वाइन की थी। ऐसे में मतदान के दिन अपर्णा के सैफई आने आैर परिवार के बीच होने को लेकर कयास लगाए जा रहे थे। माना जा रहा था कि परिवार के लोगों से मिलकर कोई बात होगी लेकिन मतदान के लिए न तो अपर्णा सैफई पहुंची और न ही साधना औ प्रतीक आए।

देर शाम तक मतदान केंद्र के बाहर सैफई के लोग इंतजार करते रहे लेकिन शाम छह बजे तक अपर्णा, साधना और प्रतीक यादव नहीं पहुंचे तो तरह तरह के कयास लगने लगे और चर्चाएं भी शुरू हो गईं। हालांकि इससे पहले संसदीय चुनाव और विधानसभा चुनाव में साधना, अपर्णा और प्रतीक अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए सैफई हमेशा आते रहे हैं।

 

Advertisements