जानें कैसे प्यासी पल्लवी जोशी को पानी पिलाकर विवेक अग्निहोत्री ने जीत लिया उनका दिल, पढ़े उनके प्यार और शादी से लेकर कश्मीर फाइल्स तक का सफर…

जानें कैसे प्यासी पल्लवी जोशी को पानी पिलाकर विवेक अग्निहोत्री ने जीत लिया उनका दिल, पढ़े उनके प्यार और शादी से लेकर कश्मीर फाइल्स तक का सफर…

फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ कमाई के नए रिकॉर्ड बना रही है । इस फिल्‍म के डायरेक्टर हैं, विवेक अग्निहोत्री हैं । फिल्‍म में उनकी पत्‍नी पल्‍लवी जोशी ने भी काम किया है । इन दोनों की पर्सनल लाइफ बहुत ही स्‍पेशल है । फैंस इस कपल की लव स्‍टोरी में दिलचस्‍पी रखते हैं।

इस वक्त देशभर में ‘द कश्मीर फाइल्स’ की चर्चा है। हर कोई फिल्म देखकर भावुक हो रहा है। पांच दिनों में ही फिल्म ने 59 करोड़ रुपये का कलेक्शन कर लिया है। सिनेमाघरों में अन्य बड़ी रिलीज और न्यूनतम प्रचार के बावजूद, फिल्म के कलेक्शन में गिरावट के कोई संकेत नहीं हैं। बीते दिनों पल्लवी जोशी और विवेक अग्निहोत्री ने घाटी में शूटिंग के दौरान आई मुश्किलों का भी जिक्र किया था। पल्लवी ने इस फिल्म में एक्टिंग की है, तो वहीं उनके पति विवेक अग्निहोत्री ने यह फिल्म डायरेक्ट की है। पल्लवी और विवेक दोनों को ही अपनी-अपनी फील्ड में महारथ हासिल है। विवेक अग्निहोत्री और पल्लवी जोशी ने 28 जून 1997 को शादी की थी। इस शादी से उन्हें दो बच्चे – एक बेटा और एक बेटी हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दोनोंं की मुलाकात कैसे हुई थी?

शादी टाइम्स को दिए इंटरव्‍यू में विवेक अग्निहोत्री ने खुलासा किया था कि पल्‍लवी जोशी से पहली बार 90 के दशक की शुरुआत में कॉमन फ्रेंड्स के जरिए एक रॉक कॉन्सर्ट में मिले थे। उन्‍होंने कहा मैं पल्‍लवी को व्यक्तिगत रूप से नहीं जानता था लेकिन पहली ही मुलाकात में मुझे लगा था कि कुछ ऐसा था जो हमारे अंदर कॉमन था- मुझे लगता है कि यह तथ्य था जो हमें करीब लेकर आया। हम दोनों संगीत कार्यक्रम से काफी ऊब गए।

पल्लवी जोशी ने इसी साक्षात्‍कार में बताया कि वह प्यासी थी और अग्निहोत्री ने उसे पीने के लिए कुछ दिया। पल्‍लवी ने कहा मैं तब उन्‍हें बहुत पसंद नहीं करती थी। धीरे-धीरे, दोनों व्यक्तिगत और व्यावसायिक दोनों स्तरों पर जुड़े और एक-दूसरे को बेहतर तरीके से जानने लगे।

पल्‍लवी ने कहा मैंने सोचा था कि एक एड-मैन होने के नाते वह उन भद्दे लोगों में से एक हो सकता है वहीं विवेक ने सोचा कि मैं फिल्मी हो सकती हूं। लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता गया हम एक-दूसरे को जानते थे और इससे पहले कि हम जानते थे कि हम प्यार में थे। हम प्रोफेशनल और व्यक्तिगत रूप से कई स्तरों पर जुड़े। तीन साल की डेटिंग के बाद, जोड़े ने 28 जून, 1997 को मुंबई में अपने परिवार और करीबी दोस्तों की मौजूदगी में शादी के बंधन में बंध गए। दंपति के दो बच्चे हैं और खुशहाल जीवन बिता रहे हैं।