छात्रों को विवादित किताब बांटने पर फंसी महिला टीचर, पहुंची जेल

छात्रों को विवादित किताब बांटने पर फंसी महिला टीचर, पहुंची जेल

Rajasthan News: राजस्थान के भीलवाड़ा में एक सरकारी महिला टीचर को छात्रों को विवादित किताब बांटना महंगा पड़ गया. इस मामले में कोर्ट ने आरोपी महिला टीचर को जेल भेज दिया है.

  • भीलवाड़ा में सरकारी महिला टीचर को हुई जेल
  • टीचर पर है विवादित किताब बांटने का आरोप
  • महिला टीचर के विरोध में आए थे कई संगठन

राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में विवादित किताब बांटने के मामले में आरोपी महिला टीचर को जेल भेजा गया है. आरोपी महिला टीचर रूपपुरा स्थित राजकीय सीनियर हायर सेकेंडरी स्कूल में पढ़ाती थीं. आरोपी महिला टीचर का नाम निर्मला कामड़ है. उस पर स्कूल के छात्रों को धर्म विरोधी किताब बांटने का आरोप है. इस मामले में आसींद थाना पुलिस ने आरोपी टीचर निर्मला कामड़ को अरेस्ट किया है. निर्मला कामड़ के मामले में कई संगठन लगातार प्रशासन को ज्ञापन दे रहे थे.

आसींद थाना अधिकारी पुलिस इंस्पेक्टर हरीश सांखला ने बताया कि 2 मार्च को आसींद थाना क्षेत्र के राजकीय सीनियर हायर सेकेंडरी स्कूल रूपपुरा की टीचर निर्मला कामड़ के खिलाफ ग्रामीणों ने सामूहिक रूप से शिकायत दर्ज करवाई थी.

पुलिस ने ग्रामवासियों की एफआईआर पर महिला टीचर पर लगे आरोपों की जांच करने के बाद उसे शनिवार को गिरफ्तार कर आसींद के कोर्ट में पेश किया. जहां से कोर्ट ने उसके जमानत प्रार्थना पत्र को खारिज करते हुए जेल भेजने के आदेश दिए.

आरोपी टीचर के विरोध और समर्थन में कई संगठन

2 मार्च को रूपपुरा स्कूल में ग्रामीणों ने महिला टीचर पर छात्रों को धर्म विरोधी किताब बांटने के मामले में स्कूल पर ताला लगाकर प्रदर्शन किया था. इस पर शिक्षा विभाग ने टीचर निर्मला कामड़ पर कार्रवाई की थी. इसके बाद निर्मला कामड़ के समर्थन और विरोध में कई संगठनों ने आसींद उपखंड मुख्यालय पर प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया था.

विश्व हिंदू परिषद ने इस मामले में गुरुवार को आसींद उपखंड मुख्यालय पर प्रदर्शन कर आरोपी महिला टीचर को गिरफ्तार करने की मांग की थी, तो शुक्रवार को विभिन्न दलित संगठनों ने महिला टीचर के समर्थन में प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया था.