यशराज फिल्म्स के बैनर तले बनी शमशेरा फिल्म फ्लॉप हो गई है। रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) और वाणी कपूर स्टारर फिल्म शमशेरा (Shamshera)’ के बुरी तरह से पिट जाने पर मेकर्स के साथ-साथ फिल्म के एक्टर्स के लिए भी सोचने वाली बात है। फिल्म रिलीज होने के बाद से रणबीर कपूर दर्शकों के निशाने पर आ गए हैं, जिसके बाद डायरेक्टर करण मल्होत्रा ने रणबीर का बचाव करते हुए, ट्विटर पर एक नोट लिखा और शमशेरा मेरी है का हैशटैग भी दिया। अब फिल्म के विलेन शुद्ध सिंह यानी संजय दत्त (Sanjay Dutt) भी शमशेरा के सपोर्ट में आ गए हैं। साथ ही उन्होंने फिल्म के फ्लॉप होने पर अपनी भड़ास निकाली है।

संजय दत्त ने इंस्टाग्राम पर लिखा, “फिल्में बनाना जुनून का काम हैं। एक कहानी कहने का जुनून, उन किरदारों को जीवन में लाने का जुनून, जिनसे आप पहले कभी नहीं मिले हैं। शमशेरा प्यार का एक ऐसा श्रम है, जिसे हमने अपना सब कुछ दे दिया। यह खून, पसीने और आँसूओं से बनी फिल्म है। यह एक सपना है जिसे हम पर्दे पर लेकर आए हैं। दर्शकों के मनोरंजन के लिए फिल्में बनाई जाती हैं और हर फिल्म को अपने दर्शक मिल जाते हैं, भले ही देर से मिलें। शमशेरा से बहुत से लोग नफरत करते हैं। कुछ लोग तो फिल्म से इस हद तक नफरत कर रहे हैं कि उन्होंने बिना देखे ही इसे बुरी फिल्म बता दिया है। मुझे यह बहुत अजीब लगता है कि लोग आपकी मेहनत की इज्जत नहीं करते। ये ठीक नहीं है। करण मल्होत्रा उन निर्देशकों में से एक हैं, जिन्होंने मुझे अग्निपथ फिल्म में कांचा चीना जैसा किरदार दिया। मैं उनका साथ हमेशा दूँगा।”

संजय दत्त ने फिल्ममेकर करण मल्होत्रा (Karan Malhotra) को लेकर अपने पोस्ट में आगे कहा कि वह मेरे परिवार की तरह हैं। एक्टर ने कहा, “मैं करण को फिल्ममेकर के तौर पर काफी एडमायर करता हूँ। अपने 4 दशक के करियर में मैंने जितने भी डायरेक्टर्स के साथ काम किया है, वह उन सब में से बेस्ट हैं। करण मेरे लिए परिवार की तरह है। कामयाबी और असफलता को एक तरफ रख दें तो हमेशा करण के साथ काम करना मेरे लिए काफी गर्व की बात होती है। उन्होंने मुझ पर फिर से विश्वास जताया और शमशेरा में शुद्ध सिंह का किरदार दिया। मैं हमेशा उनके साथ खड़ा रहूँगा।”

रणबीर कपूर को लेकर संजय ने लिखा, “मुझे यह देखकर बहुत दुख होता है कि कैसे लोग हमारे समय के सबसे हार्ड वर्किंग और टैलेंटेड एक्टर्स में से एक के काम के बारे में नफरत फैलाने के लिए उत्सुक हैं। हमारे लिए नफरत से ज्यादा आर्ट और कमिटमेंट्स मायने रखते हैं। जो प्यार हम फिल्म और उससे जुड़े लोगों के लिए फील करते हैं वो इन सारी चीजों से परे है।” ‘शमशेरा (Shamshera)’ की कास्ट और क्रू को धन्यवाद देते हुए संजय दत्त ने पोस्ट के आखिर में लिखा, “कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना।”

Advertisements