प्रियंका चोपड़ा को 10वी क्लास में हो गया था प्यार, मौसी ने पकड़ा था जब बॉयफ्रेंड के साथ शारीरिक….

प्रियंका चोपड़ा को 10वी क्लास में हो गया था प्यार, मौसी ने पकड़ा था जब बॉयफ्रेंड के साथ शारीरिक….

बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा की किताब अनफिनिश्ड रिलीज हो गई है. रिलीज होते ही किताब चर्चा में आ गई हैं. इस किताब में प्रियंका ने अपनी प्रोफेशनल लाइफ से लेकर पर्सनल लाइफ तक कई किस्से बताए हैं जो किसी को नहीं पता. प्रियंका की यह बुक उनके फैंस को बहुत पसंद आ रही हैं और वह प्रियंका से जुड़े इन किस्सों को जानने के लिए बेहद उत्सुक नजर आ रहे हैं.

ऐसा ही एक किस्सा आज हम भी आपको बताने वाले हैं जो प्रियंका ने अपनी किताब में बताया है. उन्होंने बताया कि उन्होंने अपनी पढ़ाई कुछ साल मोसी के पास अमेरिका में की थी. उस दौरान उनका एक बॉयफ्रेंड भी था जिसका नाम बॉब था. उन्होंने बताया है कि इसी रिलेशन की वजह से मुश्किल में पड़ गई थीं. उस समय प्रियंका 10वीं क्लास में पढ़ती थीं. उनका बॉयफ्रेंड भी उसी क्लास में पड़ता था. उन्होंने उसके साथ अपनी शादी की प्लानिंग भी कर ली थी.

प्रियंका ने किताब में बताया है कि एक दिन वह बॉब के साथ बैठकर टीवी देख रही थीं कि तभी अचानक उनकी मौसी वहां आ गईं. इसके बाद प्रियंका ने बॉब को अपने कमरे की अलमारी में छुपा दिया हालांकि मौसी को शक हो गया था. उन्होंने प्रियंका अलमारी खोलने के लिए बोला. प्रियंका ने अलमारी खोली तो सामने बॉब को देखकर उनकी मौसी काफी गुस्सा हुई. उन्होंने प्रियंका की मां को सब बता दिया. इसके कुछ समय बाद ही प्रियंका भारत चली गईं.इसके अलावा इस किताब में एक्ट्रेस ने बताया है कि किस तरह एक फिल्म डायरेक्टर ने उन्हें प्लास्टिक सर्जरी करवाने का सुझाव दे डाला था. प्रियंका ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू के दौरान इस पर बात भी की है.

एशियन स्टाइल मैग्जीन को दिए एक इंटरव्यू में प्रियंका चोपड़ा ने बताया कि साल 2000 में मिस वर्ल्ड का ताज हासिल करने के बाद वो एक फिल्म डायरेक्टर से मिली थीं जिसने प्रियंका को प्लास्टिक सर्जरी का सुझाव दे डाला था. एक्ट्रेस ने कहा था, ‘कुछ देर बात करने के बाद डायरेक्टर/प्रोड्यूसर ने मुझे खड़े होकर आगे-पीछे घूमने के लिए कहा, मैंने फिर वैसा ही किया. उसने मुझे काफी देर तक देखा और आंका, इसके बाद उसने सुझाव दिया कि अगर मैं एक्ट्रेस बनना चाहती हूं तो मुझे अपने अनुपातों को ‘सही’ कर लेना चाहिए और वो लॉस एंजिलिस में एक डॉक्टर को भी जानता था जहां मुझे भेज सकता था. ये सुनकर उस वक्त के मेरे मैनेजर ने भी हां में हां मिला दी थी.

प्रियंका ने बताया था कि इस बात को सुनने के बाद उन्हें काफी बुरा फील हुआ था और उन्होंने अपने मैनेजर को छोड़ दिया था. प्रियंका ने आगे कहा, ‘मैंने ये सभी बातें इस किताब में नहीं लिखी हैं क्योंकि मुझे किसी को सफाई देने की जरूरत नहीं है. मैं अपने जीवन के उस अवस्था में हूं जहां मैंने बैठकर अपनी जिंदगी के मील के पत्थरों के बारे में लिखा है. ये उन्हीं में से एक है जो मैंने अपने दिल में दबा के रखा था.

Advertisements