प्रेग्नेंसी का दर्द बयां करते हुए सनी लियॉन ने कहा लड़कियों को एक हद में रह कर करना चाहिए से*क्स और इन चीज़ों के करने से बचना चाहिए

प्रेग्नेंसी का दर्द बयां करते हुए सनी लियॉन ने कहा लड़कियों को एक हद में रह कर करना चाहिए से*क्स और इन चीज़ों के करने से बचना चाहिए

बॉलीवुड में सनी लियोन (Sunny Leone) में अपनी अलग पहचान बना चुकीं हैं. काम के साथ-साथ परिवार को कैसे संभालना है सनी लियोन अच्छे से जानती हैं. सनी 3 बच्चों की मां है जिनमें से निशा (Nisha Kaur Weber) को उन्होंने अडॉप्ट किया है तो वहीं अशर सिंह वेबर और नोआह सिंह वेबर ( Asher Singh Weber, Noah Singh Weber) की मां सनी सेरोगेसी के जरिए बनी. हाल ही में सनी ने यह रिवील किया की जैसा वो चाह रहे थे बिल्कुल भी वैसा नहीं हो रहा था, जिसके बाद उन्होंने और उनके हसबैंड डेनियल वेबर ने बेटी निशा को गोद लेने का मन बनाया. लेकिन ऊपर वाले की रहमत देखिए की सनी 1 साल में 3 बच्चों की मां बन गईं.

सनी ने इंटरव्यू में बात करते हुए अपना हालें दिल बयां किया और बताया कि वो वक्त उनके लिए काफी चुनौती भरा रहा, वो उस दौरान टूट गईं थी. और इस वक्त ही उनके दिमाग में अडॉप्शन का ख्याल आया और उन्होंने अडॉप्शन के लिए रजिस्टर किया.

सनी ने कहा -हम सरोगेसी के जरिए मां-बाप बनना चाह रहे थे, जिसमें काफी समय लगता है। मतलब इसमें शुरू से अंत तक लगभग डेढ़ साल का वक्त लगा और उस समय के दौरान, हमें लगा ‘अरे, हम गोद क्यों नहीं ले लेते?’ तय किया, सरोगेसी की प्रक्रिया ठीक नहीं चल रही थी. हमारे पास छह एगस थे – चार लड़कियों के और दो लड़कों के. अमेरिका में, आप ये जान सकते है की लड़की है या लड़का और आप उस तरह की सभी चीजें कर सकते हैं.

वह अमेरिका में है, लेकिन यहां नहीं. इसलिए हमने आईवीएफ (इन विट्रो फर्टिलाइजेशन) किया लेकिन लड़कियां बच्चे में नहीं बदलीं, तो इस बात से हम काफी परेशान थे। आप इस वक्त खुदको फेल महसूस करते हैं, इस वक्त हम बहुत छोटा और बहुत परेशान महसूस कर रहे थे.”

जैसे ही अडॉप्शन की प्रक्रिया खत्म हुई और निशा हमारी जिंदगी में आई उसी हफ्ते हमें खबर मिली की हम ट्विन लड़को के माता पिता बनने वाले है. ये भगवान की मर्जी थी. अब सनी अपने बच्चों के साथ खुशहाल जिंदगी जी रहीं हैं.