स्किल गई तेल लेने… Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज, ‘ऐसी’ फिल्मों के हिट होने पर उठाया सवाल

स्किल गई तेल लेने…Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज: स्किल गई तेल लेने… Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) अपनी ऐक्टिंग के साथ-साथ बेबाक अंदाज के लिए भी जाने जाते हैं। वो कई मुद्दों पर खुलकर अपनी राय रखते हैं। उन्होंने हाल ही में KGF 2 और RRR जैसी बड़े बजट की फिल्मों के हिट पर सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि ऐसी फिल्मों में सिर्फ विजुअल्स इफेक्ट्स हैं, लेकिन असली सिनेमा कहां (Nawazuddin Siddiqui Asked Where Is True Cinema) है? इसके साथ ही ऐक्टर ने छोटे बजट की फिल्मों को लेकर भी चिंता जताई है। स्किल गई तेल लेने…Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज

Advertisements

हाल ही में एसएस राजामौली की RRR और प्रशांत नील की KGF 2 थियेटर्स में रिलीज हुई। KGF 2 की बात करें तो ये 14 अप्रैल को रिलीज हुई और उसने ओपनिंग डे पर 134.50 करोड़ रुपये कमा डाले। फिल्म की रिलीज के हफ्ते भर के अंदर इसने वर्ल्डवाइड 700 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है। दूसरी तरफ राजामौली की RRR ने भी बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई की, जोकि 25 मार्च को रिलीज हुई थी। इसने चार हफ्तों में 246 करोड़ कमाए और 16 दिनों में वर्ल्डवाइड 1 हजार करोड़ का बिजनस किया। स्किल गई तेल लेने…Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज

Advertisements

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बॉलिवुड हंगामा को दिए इंटरव्यू में बड़े और छोटे बजट की फिल्मों को लेकर बहुत कुछ कहा। जब उनसे पूछा गया कि क्या कमर्शियल सिनेमा में मेन लीड को लेकर कॉन्सेप्ट बदला है तो उन्होंने जवाब दिया, ‘मुझे नहीं लगता कि ये बदल रहा है… मैंने मंटों में भी मुख्य भूमिका निभाई थी, लेकिन इसे देखने के लिए कितने लोग गए? मैंने सोचा कि 2 साल की महामारी के पबाद लोगों ने वर्ल्ड सिनेमा देखा होगा और एक बदलाव होगा, लेकिन जिस तरह की पिक्चर्स अभी हिट हो रही है, ऐसा लगता है कि सलाहियत गई तेल लेने, यहां एंटरटेन करो और सुपरफिशियल लेवल पे एंटरटेन करो लोगों को।’स्किल गई तेल लेने… Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज, ‘ऐसी’ फिल्मों के हिट होने पर उठाया सवाल

ऐक्टर ने ये भी कहा कि ‘अच्छी, मॉडेस्ट, छोटे बजट की फिल्मों’ को सिनेमाघरों में रिलीज करने के लिए ये एक संघर्ष है, क्योंकि थियेटर्स में सिर्फ बड़े बजट की फिल्में रिलीज होती हैं। ऐसी मूवीज के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘ऐसी फिल्में चकाचौंध और विस्मय पैदा करती हैं कि प्लेन को पानी में डाल दो और मछलियों को उड़ा दो। ये एक विजुअल ऐक्सपीरियंस है, जिसे मैं देखना भी पसंद करता हूं, लेकिन असली सिनेमा कहा हैं? जब आप CODA, किंग रिचर्ड और अच्छी फिल्में ओटीटी पर देखते हैं, भगवान का शुक्र है कि ओटीटी ने हमें बचा लिया है तो आप राहत महसूस करते हैं कि अच्छी फिल्में बन रही हैं। मुझे लगता है कि बच्चों को ये चौंकाने वाली फिल्में पसंद हैं। एक यंग माइंड भी प्रोग्रेसिव माइंड है। हमें 2 साल बाद और प्रोग्रेसिव होना चाहिए था, लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हुआ।’ स्किल गई तेल लेने… Nawazuddin Siddiqui ने KGF 2 और RRR पर कसा तंज

Advertisements

Advertisements