कंगना रनोट इंडस्ट्री में हमेशा अपने बेबाक बयानों की वजह से चर्चा में बनी रहती हैं। अब एक बार फिर उन्होंने महेश भट्ट पर तंज कसा है। अपने सोशल मीडिया अकाउंट से महेश के पुराने वीडियोज शेयर करते हुए कहा कि उनका असली नाम असलम है। वह अपने इस खूबसूरत नाम को क्यों छिपा रहे हैं। दरअसल, महेश वीडियो में कह रहे हैं कि डरा हुआ आदमी मुसलमान नहीं हो सकता।

जहां इस्लाम है वहां डर नहीं- महेश

महेश भट्ट का यह वीडियो जमीएत एहले हदीस, मुंबई के एक कार्यक्रम का है। इसे शेयर करते हुए कंगना ने लिखा- महेश बड़ी शालीनता भरे अंदाज में लोगों को हिंसा के लिए भड़का रहे हैं। दरअसल, वीडियो में महेश कह रहे हैं कि भाई जरा अपनी शिद्दत को जगाइए। मैंने जितना भी इस्लाम के बारे में पढ़ा है, मुझे एक ही बात समझ में आई है कि डरा हुआ आदमी मुसलमान नहीं हो सकता।

वीडियो में महेश ने आगे कहा, ‘जहां डर है वहां इस्लाम नहीं और जहां इस्लाम है वहां डर नहीं। जैसे जहां रोशनी होती है वहां अंधेरा नहीं हो सकता। एक हदीस मुझे मेरे अजीज दोस्त महमूद मदनी साहब ने लिखवाई थी जो मेरे कंप्यूटर पर है। ये हदीस पढ़ने के बाद महेश भट्ट ने इसे हिंदी में अनुवाद करते हुए कहा- मदद कर। अपने भाई की मदद कर, वो मजलूम (बेचारा) हो तो मदद कर, और जालिम हो तो भी मदद कर।

महेश भट्ट को अपनी पहचान नहीं छुपाना चाहिए- कंगना
कंगना ने अपनी पोस्ट में लिखा- महेश भट्ट ने सोनी राजदान से दूसरी शादी के लिए अपना धर्म बदला है। उनका असली नाम असलम है, यह बहुत खूबसूरत है। मुझे यह समझ नहीं आ रहा कि वह अपनी पहचान क्यों छिपा रहे हैं। उन्हें अपने असली नाम का इस्तेमाल करना चाहिए।

Advertisements