इस्लाम को कोसने वाले डच सांसद खुद मुसलमान बने

नई दिल्ली,नीदरलैंड्स में धुर दक्षिणपंथी सांसद योराम फान क्लावेरेन के इस्लाम धर्म कबूल कर लेने से बहुत से लोग हैरान हैं |दिन रात इस्लाम की आलोचना करने वाले फान क्लावेरेन अब कहते हैं कि वह गलत थे |फान क्लावेरेन डच राजनेता गीर्ट विल्डर्स की पार्टी के सदस्य रहे हैं जो दुनिया भर में अपनी इस्लाम विरोधी टिप्पणियों के लिए सुर्खियों में रहते हैं |और इस काम में फान क्लावेरेन भी उनका भरपूर साथ देते रहे हैं|फान क्लावेरेन ने कभी कहा था कि इस्लाम “एक झूठ” है और कुरान “जहर”|

वह डच संसद के निचले सदन में बरसों से इस्लाम के खिलाफ झंडा बुलंद करते रहे |अल्गेमीन डागब्लाड अखबार का कहना है कि यह दक्षिणपंथी सांसद नीदरलैंड्स में बुर्का और मीनारों पर प्रतिबंध लगाने की वकालत करते थे क्योंकि उनका कहना था, “हमें नीदरलैंड्स में कोई इस्लाम नहीं चाहिए, और हो भी तो कम से कम|”लेकिन अब 40 साल के फान क्लावेरेन कहते हैं कि उनका मन बदल गया है |और यह सब हुआ एक इस्लाम विरोधी किताब लिखने के दौरान एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, “अगर आप विश्वास करते हैं कि भगवान सिर्फ एक है और मोहम्मद एक पैगंबर थे, जैसे ईसा मसीह और मोजे, तो फिर आप औपचारिक रूप से मुसलमान हैं.”

मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि फान क्लावेरेन ने पिछले साल 26 अक्टूबर को इस्लाम कबूल किया, अपनी किताब जारी होने से ठीक पहले एक रुढ़िवादी प्रोटेस्टेंट ईसाई माहौल में पले बढे फान क्लावेरे अपने धर्मांतरण पर कहते हैं, “मुझे लंबे सयम से इसकी तलाश थी.” उन्होंने डच अखबारों को बताया, “ये मेरे लिए धार्मिक रूप से घर वापसी जैसा है.” पत्रकारों के पूछने पर उन्होंने बताया कि उनके धर्म बदलने पर उनकी पत्नी को कोई दिक्कत नहीं है. उन्होंने कहा, “मेरी पत्नी इस बात को स्वीकार करती है कि मैं एक मुसलमान हूं |उसने कहा कि अगर तुम खुश हो तो मैं तुम्हें रोकूंगी नहीं|”

नीदरलैंड्स की 1.7 करोड़ की आबादी में लगभग पांच प्रतिशत मुसलमान हैं. डच सेंट्रल स्टैटिक्स ब्यूरो के मुताबिक उनकी संख्या 8.5 लाख है. विशेषज्ञों का कहना है कि नीदरलैंड्स में 2050 तक मुसलमानों की संख्या दो गुनी हो सकती है| इसका मतलब है कि विल्डर्स की आपत्तियों के बावजूद नीदरलैंड्स में इस्लाम फैल रहा है|

Advertisements