CBSE दसवीं के पेपर में आये सवाल पर संसद में हंगामा

नई दिल्ली, सीबीएसई (CBSE) 10वीं क्लास के प्रश्न पत्र में एक प्रश्न इस प्रकार आया कि “भारतीय परिवारों में महिलाओं को मिलने वाली आजादी से घर का माहौल खराब हो रहा है और अगर महिलाएं अपने घर में पति का प्रभुत्व स्वीकार ना करें तो वो अपने बच्चों से कभी सम्मान नहीं पा सकती l सोमवार को दिनभर इस सवाल पर विवाद होता रहा और विरोध के बाद CBSE ने इस सवाल को अपने प्रश्न पत्र से डिलीट कर दिया l

इसमें ये भी लिखा है कि महिलाओं को स्वतंत्रता मिलना अनेक तरह की सामाजिक और पारिवारिक समस्याओं का प्रमुख कारण है l एक और बड़ी बात इसमें ये थी कि पहले महिलाएं अपने बच्चों को डराने के लिए ये कहती थीं कि पापा आ गए तो वो उन्हें बहुत मारेंगे यानी महिलाएं बच्चों को उनके पिता के नाम से डराती थीं l लेकिन आज पुरुषों का प्रभाव कम होने से ये डर भी बच्चों में खत्म हो गया है l

सोमवार को इस पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी आपत्ति जताई और केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय और CBSE से इस पर माफी मांगने के लिए कहा l संसद में बात को लेकर काफ़ी देर हंगामा हुआ जिसके बाद सदन को कुछ समय के लिए स्थगित भी करना पड़ा l कई सांसदों ने सीबीएसई के इस प्रश्न पर आपत्ति जताई l

इस विवाद के बाद CBSE ने प्रश्न पत्र से इस सवाल को हटा दिया है और कहा है कि छात्रों को इस सवाल के पूरे नम्बर दिए जाएंगे l यानी इस सवाल के हटने से बच्चों के अंक नहीं काटे जाएंगे l उन्हें इसके पूरे नंबर मिलेंगे l CBSE ने ये भी माना है कि उसके प्रश्न पत्र में लिखी ये बातें पाठ्यक्रम के अनुरूप नहीं हैं l

Advertisements