दीप्ति शर्मा की एक नो-बॉल, आखिरी ओवर में इस तरह वर्ल्डकप से बाहर हुई टीम इंडिया

दीप्ति शर्मा की एक नो-बॉल, आखिरी ओवर में इस तरह वर्ल्डकप से बाहर हुई टीम इंडिया

भारतीय टीम को आखिरी ओवर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ नो-बॉल फेंकना काफी महंगा पड़ा. दक्षिण अफ्रीका ने एक रोमांचक मुकाबले में भारत को 3 विकेट से मात दी. भारतीय टीम को आखिरी 2 गेंदों में 3 रन बचाने थे लेकिन दीप्ति शर्मा की एक गेंद को नो- बॉल करार दे दिया गया. हालांकि वह रिप्ले में काफी करीबी मामला लग रहा था. क्योंकी गेंदबाज का पैर क्रीज के ऊपर हवा में ही था.

इस नो-बॉल की बदौलत दक्षिण अफ्रीका के लिए अंतिम ओवर में लक्ष्य आसान हो गया. इसी गेंद पर दीप्ति शर्मा ने मिग्नन डु प्रीज को हरमनप्रीत के हाथों कैच आउट भी करवाया था, जो भारत के लिए आखिरी गेंद में काफी फायदेमंद साबित हो सकता था. लेकिन स्पिनर द्वारा मुकाबले के इस क्षण में करीबी नो-बॉल फेंकना टीम इंडिया को भारी पड़ गया. इस नो-बॉल पर मिग्नन डु प्रीज ने लॉन्ग ऑन की तरफ एक बड़ा शॉट खेलने की कोशिश की थी जिसे वहां मौजूद हरमनप्रीत कौर ने पकड़ा.

आखिरी ओवर का रोमांच

द.अफ्रीका को जीतने के लिए आखिरी ओवर में 7 रन चाहिए थे.

पहली गेंद- एक रन  (जीत के लिए 5 गेंदों में 6 रन)
दूसरी गेंद- त्रिशा चेट्टी रनआउट (जीत के लिए 4 गेंदों में 6 रन)
तीसरी गेंद- एक रन (जीत के लिए 3 गेंदों में 5 रन)
चौथी गेंद- एक रन (जीत के लिए 2 गेंदों में 4 रन)
पांचवीं गेंद- नो बॉल एक रन (जीत के लिए 2 गेंदों में 2 रन)
पांचवीं गेंद-  एक रन (जीत के लिए 1 गेंद में 1 रन)
आखिरी गेंद- एक रन (दक्षिण अफ्रीका 3  विकेट से जीता)

इसी कैच के बीच बल्लेबाजों ने एक रन भी दौड़ कर पूरा कर लिया था लेकिन उस रन को अमान्य घोषित कर दिया गया, लेकिन बाद में इसे बल्लेबाज और टीम के खाते में जोड़ा गया. इसके बावजूद स्ट्राईक को चेंज कर दिया गया. दक्षिण अफ्रीका बाकी बची दो गेंदों में 2 रन निकालकर मुकाबले को अपने नाम कर लिया. भारतीय टीम के लिए हरमनप्रीत कौर ने शानदार गेंदबाजी और फील्डिंग करते हुए मुकाबले में भारतीय टीम की वापसी कराई, लेकिन आखिरी ओवर की तीसरी गेंद ने हरमनप्रीत के साथ भारतीय फैन्स को भी निराश कर दिया.