खुलासा पोर्नोग्राफी के धंधे में सिर्फ100 दिन मे ही करोड़पति बन गई कानपुर की हर्षिता श्रीवास्तव……

खुलासा पोर्नोग्राफी के धंधे में सिर्फ100 दिन मे ही करोड़पति बन गई कानपुर की हर्षिता श्रीवास्तव……

कहते हैं जैसे कर्म वैसे फल, जैसी करनी वैसी भरनी इन दिनों हाईप्रोफाइल जिंदगी जीने वाले शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा काफी चर्चा का विषय बने हुए हैं. राज कुंद्रा पर अश्लील फिल्में बनाने पोर्नोग्राफी में शामिल होने के कारण पुलिस हिरासत में हैं. 19 जुलाई को क्राइम ब्रांच ने देर रात राज कुंद्रा को गिरफ्तार कर लिया था. राज कुंद्रा के गिरफ्तार होने की खबर से इंडस्ट्री और सभी लोग हैरान हो गए.ऐसे में अब कॉमेडियन सुनील पाल ने भी राज कुंद्रा की गिरफ्तारी पोर्नोग्राफी में शामिल होने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.

राज कुंद्रा के समय कानपुर की रहने वाली हर्षिता श्रीवास्तव का नाम सामने आ रहा है, हर्षिता का पति अरविंद श्रीवास्तव वही शख्स है जो राज कुंद्रा के प्रोडक्शन हाउस में बनी अश्लील फिल्मों का डिस्ट्रीब्यूशन कर रहा था.मुंबई पुलिस कीक्राइम ब्रांच की छानबीन के बाद हर्षिता का एक बैंक अकाउंट सीज़ किया है. जिसमें करीब ढाई करोड़ रुपये मौजूद है. जांच में यह सामने आया कि हर्षिता कोई जॉब नहीं करती लेकिन राज कुंद्रा की कंपनी शुरूहोने के 100 दिन के अंदर करोड़पति बन गई थी. हर्षिता के पति अरविंद श्रीवास्तव को भी क्राइम ब्रांच की टीम तलाश कर रही है.

जानकारी के अनुसार अरविंद राज कुंद्रा की कंपनी फिलज मूवीस की कमाई का एक हिस्सा अपनी पत्नी हर्षिता और पिता नर्मदा के अकाउंट में ट्रांसफर कर रहा था. खातों के डिटेल से यह पता चला कि सिर्फ 100 दिनों में ही हर्षिता करोड़पती बन गई थी पहली बार चैनल फिलज ओपीसी प्राइवेट लिमिटेड से अरविंद जी पत्नी हर्षिता के खाते में ₹40 हज़ार ट्रांसफर किए गए थे. इसके बाद 100 दिन बाद अरविंद ने इस खाते में दो ₹2.15 करोड़ ट्रांसफर किए यह पैसे हर्षिता की सैलरी के तौर पर जमा किए जा रहे थे

क्राइम ब्रांच ने अरविंद का भी अकाउंट सीज कर लिया है. इसमें 1.81 करोड़ रुपए मौजूद थे.अरविंद एप से कमाए पैसों को अपने परिवार के अकाउंट में क्यों भेज रहा था और यहां से यह पैसे कहां जा रहे थे इसकी जांच पड़ताल चल रही है. खबरों के अनुसार इन बैंक अकाउंट का ब्लैक मनी हवाला और सट्टेबाजी के लिए इस्तेमाल किए जाने का शक है. हर्षिता और नर्वदा श्रीवास्तव के खातों में रकम आने के कुछ दिन बाद ही वह दूसरे खातों में ट्रांसफर हो जाती थी.