स्वामी प्रसाद के काफिले पर पथराव मामले में नया मोड़, बेटी संघमित्रा समेत 30 नामजद

स्वामी प्रसाद के काफिले पर पथराव मामले में नया मोड़, बेटी संघमित्रा समेत 30 नामजद

फाजिलनगर विधानसभा क्षेत्र के गांव चाफ के खलवा टोला में भाजपा व सपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए पथराव के मामले में विशुनपुरा पुलिस ने देर रात दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया। दर्ज मुकदमे में सपा प्रत्याशी स्वामी प्रसाद मौर्य की सांसद बेटी संघमित्रा व बेटे अशोक मौर्य भी नामजद हैं।

देर रात इस मामले में भाजपा के दुदही मंडल अध्यक्ष दीपराज खरवार की तहरीर पर पुलिस ने भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्या, अशोक मौर्या समेत 30 नामजद तथा सैकड़ों अज्ञात सपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध मारपीट, नकदी व चेन छीनने तथा एससी-एसटी एक्ट का मुकदमा पंजीकृत किया। वहीं सपा के फाजिलनगर विधानसभाध्यक्ष हीरालाल यादव की तहरीर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष दीपराज खरवार समेत 15 नामजद तथा सैकड़ों अज्ञात कार्यकर्ताअों के विरुद्ध मारपीट तथा नकदी व चेन छीनने का मुकदमा पंजीकृत हुआ है। पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल ने बताया कि दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है। गुण-दोष के आधार पर आगे कार्रवाई होगी।

फाजिलनगर विधानसभा क्षेत्र के सपा प्रत्याशी स्वामी प्रसाद मौर्या ने बल्कि भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्र कुशवाहा ने रोड शो के लिए अनुमति ली थी। जिला निर्वाचन अधिकारी डीएम एस राजलिंगम ने देर शाम बताया कि सपा प्रत्याशी ने रोड शो के लिए कोई अनुमति नहीं ली थी, उन्हें केवल प्रत्याशी समेत दो वाहनों पर भ्रमण करना था। बताया कि घटना के बाद मौके पर हुई वीडियोग्राफी में 25 वाहनों के क्षतिग्रस्त होने की बात सामने आई है।

मौके पर भी लोगों ने यही बताया है। कहा कि भाजपा प्रत्याशी ने मंगलवार को रोड शो के लिए अनुमति ली थी, जिसमें 50 चार पहिया व 300 दो पहिया वाहनों के साथ सुबह 10 बजे से पावानगर महावीर इंटर कालेज में एकत्रित होने व शाम पांच बजे तक विधानसभा क्षेत्र में भ्रमण करने की अनुमति रिटर्निंग अधिकारी से ली थी। इसकी सूचना से फाजिलनगर के प्रेक्षक समेत चुनाव आयोग को अवगत करा दिया गया है। निर्देश मिलने पर अगली कार्रवाई होगी।

Advertisements