जानें गूगल के ceo सुन्दर पिचाई पर क्यों दर्ज हुई FIR, लगाने पड़ें कोर्ट के चक्कर

मुंबई,फिल्ममेकर सुनील दर्शन (Suneel Darshan) ने यूट्यूब पर अपनी फिल्म ‘एक हसीना थी एक दीवाना था’ (Ek Haseena Thi Ek Deewana Tha) के कॉपीराइट उल्लंघन को रोकने के लिए कानूनी रास्ता अपनाया है। सुनील दर्शन ने गूगल, इसके सीईओ सुंदर पिचाई (Google CEO Sundar Pichai) और कुछ अधिकारियों के खिलाफ कॉपीराइट उल्लंघन को लेकर एफआईआर दर्ज कराई है।

सुनील दर्शन ने आरोप लगाया है कि यूट्यूब पर कई यूजर्स उनकी फिल्मों और म्यूजिक के जरिए खूब कमाई कर रहे हैं और इससे उन्हें भारी नुकसान हो रहा है। एफआईआर में सुनील दर्शन ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई समेत गूगल के 6 कर्मचारियों का नाम लिया है।

इस मामले को लेकर सुंदर पिचाई ने हमारे सहयोगी ईटाइम्स को बताया, ‘मेरी फिल्म जिसे मैंने कहीं भी अपलोड नहीं किया है और न ही दुनिया भर में किसी और को बेचा है, उसे यूट्यूब पर लाखों बार देखा गया है। मैं गूगल से रिक्वेस्ट करता रहा कि उस फिल्म को यूट्यूब से हटा दें। इसके लिए दर-दर भटकता रहा। मैं इस कदर तंग आ गया और निराश हो गया था कि मेरे पास कोर्ट जाने के सिवाय और कोई रास्ता ही नहीं बचा। खुशकिस्मती से कोर्ट ने मेरे पक्ष में आदेश दिया और पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया।’

सुनील दर्शन ने आगे कहा, ‘करीब एक अरब से भी ज्यादा कॉपीराइट उल्लंघन हुए हैं और मेरे पास हरेक का रेकॉर्ड है। यह उन लोगों के बारे में है जो दावा करते हैं कि वो कानून का पालन करते हैं और अब उनके पास कोई सिस्टम नहीं। जो लोग मेरी वीडियो से कमाई कर रहे हैं उन्हें बहुत फायदा हो रहा है। मैं टेक्नॉलजी नहीं बल्कि इसके गलत इस्तेमाल को चैलेंज कर रहा हूं।’

Advertisements