कोहली की जिद पड़ी पाकिस्तान के खिलाफ भारी, अब गिरेगी कप्तान के चहेते पर गाज!

टी20 विश्व कप 2021 (T20 World cup 2021) में टीम इंडिया जिस तरह से पाकिस्तान के खिलाफ हारी, उससे भारतीय टीम मैनेजमेंट पर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं. निशाने पर कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) हैं.

कोहली की एक जिद टीम इंडिया पर भारी पड़ गई. उन्होंने पूरी तरह फिट नहीं होने के बावजूद हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) को पाकिस्तान के खिलाफ यह कहते हुए प्लेइंग-11 में शामिल किया कि रातों-रात पंड्या जैसे ऑलराउंडर नहीं मिल सकता है. लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ पंड्या ने जैसा प्रदर्शन किया, वो किसी से छुपा नहीं है. वो बल्ले से एक बार फिर नाकाम रहे और 11 रन बनाकर आउट हो गए और मैच में उन्होंने गेंदबाजी भी नहीं की.

इसके बाद भारतीय कप्तान और कैच की सोच पर सवाल खड़े हो रहे हैं. आखिर क्यों अनफिट पंड्या को फिट खिलाड़ियों पर तरजीह दी गई. क्यों नहीं छठे गेंदबाज के तौर पर शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) को मौका दिया गया. जो जरूरत पड़ने पर पंड्या की तरह पावर हिटिंग कर सकते हैं. पंड्या की फिटनेस को लेकर जो अपडेट आया है. वो भी टीम की परेशानी बढ़ाने वाला ही है. उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ मैच के बाद स्कैन के लिए अस्पताल ले जाया गया था. पंड्या चोट के कारण पाकिस्‍तान के खिलाफ फील्डिंग करने मैदान पर नहीं उतरे थे. ऐसे में 31 अक्टूबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले दूसरे मुकाबले में पंड्या का पत्ता कटना लगभग तय है.

पाकिस्तान के खिलाफ छठे गेंदबाज की कमी खली

पाकिस्तान के खिलाफ टीम की हार की एक वजह छठे गेंदबाज का विकल्प ना होना भी रहा. मैच में जब बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान ने मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, वरुण चक्रवर्ती के खिलाफ अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे. तब छठे गेंदबाजी की कमी खली. ऐसे में पंड्या की जगह शार्दुल ठाकुर रहते तो वो इसकी भरपाई कर सकते थे. वैसे भी शार्दुल अहम मौकों पर विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं. वो कई बार इसे साबित कर चुके हैं. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज और आईपीएल के यूएई लेग में गेंद और बल्ले दोनों से अपनी उपयोगिता साबित की थी.

पंड्या के कारण टीम इंडिया का संतुलन गड़बड़ा रहा

टी20 क्रिकेट में जिस टीम के पास जितने ऑलराउंडर खिलाड़ी होते हैं. वो उतनी मजबूत मानी जाती है. इस वक्त भारतीय टीम के पास सात नंबर पर बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजी करने वाला खिलाड़ी नहीं है. पंड्या बतौर बल्लेबाज टीम में खेल रहे हैं. लेकिन उनके बल्ले से भी रन नहीं निकल रहे हैं.पाकिस्तान के खिलाफ टीम इंडिया को इसका नुकसान उठाना पड़ा. हार्दिक ने आईपीएल 2021 में 12 मैच में 121 रन ही बनाए थे.

अंपायर मैच फिक्सिंग में शामिल है…उस समय सो रहा था” केएल राहुल के नो बॉल पर आउट होने पर भड़के भारतीय फैंस

हार्दिक की मौजूदगी के कारण टीम का संतुलन गड़बड़ा रहा है. उनकी जगह पिच और कंडीशंस के हिसाब से एक स्पिनर या चौथे तेज गेंदबाज को खिलाया जा सकता है. जो टीम को मजबूती देगा. ऐसे में न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले अगले मुकाबले में टीम इंडिया को हार्दिक के विकल्प के बारे में सोचना होगा और इस रोल के लिए भारतीय टीम के पास शार्दुल और आर अश्विन जैसे खिलाड़ी मौजूद हैं.

Advertisements